उपकारी को कभी गुरू नही बनाना- मुनि सुधासागर महाराज

0
333

मदनगंज-किशनगढ। मुनि सुधासागर महाराज ने बुधवार को सिटी रोड स्थित श्री आदिनाथ दिगम्बर जैन मंदिर में धर्माेपदेश देते हुए कहा कि व्यक्ति दूसरे को अच्छा बनाना व देखना चाहता है लेकिन स्वयं अच्छा बनाना नही चाहता वह मार्ग दृष्टा कहलाते है। छोटे सदैव बडों पर उपकार करते है। उपकारी को कभी गुरू नही बनाना चाहिए। मारने व बचाने में अंतर है। मन वचन काय से किसी को दु:खी नही कराने वाला भगवान व गुरू होता है। स्वार्थ भाव से भगवान के पास नही जाना चाहिए। धर्मसभा में मुनि महासागर महाराज ने कहा कि आहार, भय, मैथून व परिग्रह पाप की मूल जड है इन चारों संज्ञाओं का समन किए बिना मोक्ष नही मिलता। जीवन का मूल लक्ष्य होना चाहिए। संसार में स्वयं को जानना जरूरी है। विषय भोगों में समय बर्बाद नही करना चाहिए। तन से तप करते हुए कर्म का नाश करना चाहिए। निशकृष्ट व्यक्ति के मन में स्वयं के कल्याा की भावना नही आती है। जीवन निर्वाह के साथ जीवन निर्माण का पुरूषार्थ करने पर जीवन सार्थक होगा। धन व धर्म औषधि है। श्री दिगम्बर जैन धर्म प्रभावना समिति के प्रचार मंत्री संजय जैन के अनुसार कार्यक्रम में आचार्य विद्यासागर महाराज द्वारा लिखित मुक माटी गं्रथ का गुजराती अनुवाद ग्रंथ का विमोचन प्रकाशचंद गंगवाल, कैलाशचंद पहाडिया, प्राणेश, सुशीला पाटनी ने किया। मुक माटी गुजराती अनुवाद ग्रंथ को बिंदू दीदी, ऊषा दीदी व नेना दीदी ने मुनिश्री ससंघ को भेंट किया। प्रात: श्रीजी का अभिषेक, शांतिधारा दोपहर में सामयिक के पश्चात मुनि निष्कंपसागर महाराज द्वारा जिनसहस्त्रनाम स्त्रोत पाठ, मुनि सुधासागर महाराज द्वारा तत्वार्थ श्लोक वार्तिक एवं पद्मनन्दि पंच विशंतिका, मुनि महासागर महाराज द्वारा तत्वार्थ सूत्र तथा सायं जिज्ञासा समाधान के पश्चात क्षुल्लक धैर्यसागर महाराज द्वारा बच्चों की पाठशाला में जीवन को सार्थक करने का धार्मिक ज्ञान दिया जा रहा है। सायं जिज्ञासा समाधान व आरती के पश्चात क्षुल्लक गंभीरसागर महाराज के प्रवचन हो रहे है।

नि:शुल्क थॉयराइड शिविर कल

मुनि सुधासागर महाराज ससंघ के सानिध्य एवं श्री दिगम्बर जैन धर्म प्रभावना समिति के तत्वावधान में 8 दिसम्बर को आर.के. कम्यूनिटी सेंटर में नि:शुल्क थायराइड रोग जांच व परामर्श शिविर का आयोजन किया जाएगा। शिविर प्रभारी सुभाष सेठी, महेन्द्र बाकलीवाल व मुकेश वैद ने बताया कि शिविर में वास्तुविज्ञ, स्वरविज्ञानिक डॉ. राजेन्द्र जैन द्वारा प्रात: 8 से थॉयराइड रोग का इलाज नि:शुल्क किया जाएगा। इसके लिए पूर्व पंजीयन कराना आवश्यक है।

LEAVE A REPLY