मेरठ के निशांत जैन ने लहराया परचम, UPSC में हासिल की 13वीं रैंक

0
288

upsc-exam_1436023811मेरठ : साधारण परिवार में जन्में निशांत जैन ने शनिवार को घोषित हुए यूपीएससी सिविल सर्विस एग्जाम के परिणाम में ऑल इंडिया में 13वीं रैंक हासिल की है। निशांत की इस उपलब्धि पर परिवार के लोग खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं। निशांत के घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा है। अपनी इस उपलब्धि पर निशांत जैन भी खुश हैं।
निशांत जैन ने परीक्षा की तैयारी करने वालों को संदेश देते हुए कहा कि निराशा और हताशा से दूर होकर युवाओं को परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए। युवाओं को परीक्षा को लेकर पूर्वाग्रहों से बचना चाहिए। सब कुछ भूलकर केवल अपनी तैयारी पर ध्यान देना चाहिए। वह हिंदी मीडियम से हैं या इंग्‍लिश मीडियम से हैं यह सब नहीं देखना चाहिए। न ही मन में यह बात लानी चाहिए कि वह छोटे शहर या गांव से है शायद उनका नंबर न आए। निशांत शहर की पंजाबीपुरा कॉलोनी में परिवार के साथ रहते हैं।

पहली बार प्रारंभिक परीक्षा भी नहीं हुई थी उर्त्तीण

यूपीएसी सिविल सर्विस परीक्षा में 13वीं रैंक हासिल करने वाले निशांत जैन ने बताया कि वह दूसरी बार इस परीक्षा में बैठा था। पहली बार जब वह परीक्षा में बैठा तो प्रारंभिक परीक्षा भी वह पास नहीं कर सका था, लेकिन उसने हिम्मत नहीं हारी और अपनी तैयारी में जुटा रहा। निशांत ने बताया कि उसके पापा सुशील जैन प्राइवेट सर्विस से रिटायर्ड हैं और मां सुशीला जैन गृहिणी है। दोनों ने निशांत को हमेशा हिम्मत दी। बड़े भाई प्रशांत जैन एक नेशनल समाचार पत्र में रिपोर्टर हैं। निशांत जैन ने बताया कि बड़े भाई ने भी उन्हें परीक्षा की तैयारी में काफी मार्गदर्शन किया।

लोकसभा सचिवालय में जॉब करता है निशांत जैन

निशांत जैन ने बताया कि वह करीब डेढ़ साल से दिल्ली में लोकसभा सचिवालय में राजभाषा विभाग में काम करता है। निशांत के अनुसार, नौकरी के चलते उसे परीक्षा की तैयारी के लिए अधिक समय नहीं मिल पाता था। शनिवार और रविवार की छुट्टी में वह परीक्षा की तैयारी करता था। आम दिनों में वह शाम के समय एक डेढ़ घंटा पढ़ाई करता था। निशांत जैन की बहन निकिता जैन मेरठ में ही डाक विभाग में जॉब करती हैं।

सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल में पायी प्रारंभिक शिक्षा

13वीं रैंक हासिल करने वाले निशांत जैन ने बताया कि दसवीं तक की पढ़ाई उसने शहर के सरस्वती शिशु मंदिर स्कूल पूर्वा महावीर से की। उसके बाद 12वीं की पढ़ाई केके इंटर कॉलेज से की। इंटर की पढ़ाई के बाद मेरठ कॉलेज में एडमिशन लिया और वहां से एमए की पढ़ाई की। एमफिल दिल्ली यूनिवर्सिटी से की। निशांत ने बताया कि वह यूपी कार्डर में जाना चाहते हैं। उसकी 13वीं रैंक आई है, जिसके चलते उम्मीद है कि उसे यूपी कार्डर मिल जाए। निशांत के अनुसार, वह अपने होम स्टेट में ही अपनी सेवा प्रदान करना चाहते हैं।

LEAVE A REPLY